Header Ads

23 जून 2022 : अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक दिवस

अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक दिवस

(International Olympic Day)

  • प्रतिवर्ष 23 जून को अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक दिवस मनाया जाता है।
  • पहली बार अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक दिवस 23 जून, 1948 को मनाया गया। इसी दिन 23 जून 1894 को पियरे द कुबर्तिन ने अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक समीति (आईओसी) स्थापना की थी। 1948 में आईओसी ने 23 जून स्थापना दिवस को ही अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक दिवस के रूप में मनाना शुरू किया।
  • ओलंपिक दिवस मनाने का उद्देश्य खेलों के प्रति लोगों को जागरूक करना है। साथ ही इन खेलों में अधिक से अधिक खिलाड़ी भाग लें, यह भी प्रयास करना है।

ओलंपिक के बारे में तथ्यात्मक जानकारी

  • माना जाता है कि प्राचीन ओलंपिक खेलों की शुरुआत करीब 2,776 साल पहले ग्रीस में जीयस के पुत्र हेराकल्स ने की थी।
  • प्रथम आधुनिक ओलंपिक खेल 6 से 15 अप्रेल, 1896 में एथेंस में हुए।
  • अंतराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) का मुख्यालय स्विट्जरलैंड के लुसाने शहर में है।
  • आईओसी के अध्यक्ष 8 वर्ष के लिए चुना जाता है। इसके पहले अध्यक्ष यूनान यानी ग्रीस के डेमेट्रियस विकेलस थे। वर्तमान यानी 2021 में इसके अध्यक्ष जर्मनी के थॉमस बाच हैं। सन् 2013 में इनको आठ वर्ष के लिए चुना गया था, लेकिन वर्ष 2020 में होने वाले टोकियो ओलंपिक का आयोजन वर्ष 2021 में होने के कारण इनका कार्यकाल 4 साल बढ़ाकर 2025 तक कर दिया गया है।
  • अब तक तीन बार ओलंपिक खेलों का आयोजन नहीं हो पाया। दोनों विश्व युद्धों के दौरान 1916, 1940 और 1944 के ओलंपिक आयोजन नहीं हो पाए। कोरोना महामारी के कारण वर्ष 2020 में होने वाले ओलंपिक खेलों का आयोजन भी आगे खिसकाकर 23 जुलाई से 8 अगस्त 2021 तक किया गया।
  • वर्ष 2021 में हुए टोक्यो ओलंपिक-2020 में भारत ने कुल सात पदक जीते। जिसमें एक स्वर्ण, दो रजत और चार कांस्य पदक है। ओलंपिक में भारत की ओर से स्वर्ण पदक जीतने वाले नीरज चोपड़ा दूसरे खिलाड़ी और पहले एथलीट हैं। इससे पहले निशानेबाज अभिनव बिंद्रा ने 2008 के बीजिंग ओलंपिक में 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीता था।
  • ओलंपिक चिह्न में रिंग यानी छल्लों के रंग नीला, पीला, काला, हरा और लाल है। यह छल्ले इस प्रकार बने होते हैं कि 'W' का आकार बनाते है। महाद्वीपों के अनुसार इनका रंग इस प्रकार है-1. लाल रंग-अमेरिका, 2. हरा रंग-ऑस्ट्रेलिया, 3. पीला रंग-एशिया, 4. नीला रंग-यूरोप और 5. काला रंग-अफ्रीका।
  • पहली बार ओलंपिक ध्वज 1920 में बेल्जियम के एंटवर्प में आयोजित ओलंपिक खेलों में फहराया गया। इसका मॉडल पियरे द कुबर्तिन ने 1914 में बनाया था।
  • ओलंपिक खेलों के आयोजन की शुरुआत मशाल जलाकर की जाती है, जो खेलों के दौरान लगातार जलती रहती है। 1936 में आयोजित बर्लिन ओलंपिक में मशाल जलाने की प्रथा को पुनजीर्वित किया गया था।
  • यूनान के संगीतकारों स्पिरॉस सामारॉस और कोस्तिम फालामॉस ने 10वीं शताब्दी में ओलंपिक गान की रचना की।
  • 1924 के पेरिस ओलंपिक खेलों में ओलंपिक गांव की अवधारणा शुरू हुई। इसके तहत ओलंपिक खेलों के दौरान खिलाडिय़ों के लिए अलग से ओलंपिक गांव का निर्माण किया जाता है।
  • 32वें ओलंपिक खेलों का आयोजन जापान की राजधानी टोकियो में किया जाना है। पहले इनका आयोजन वर्ष 2020 में किया जा रहा था, लेकिन कोविड-19 यानी कोरोना महामारी के कारण स्थगित कर दिया गया। अब इनका आयोजन 23 जुलाई से 8 अगस्त, 2021 तक किया जाएगा। इन खेलों के शुभंकर यानी मैस्कट हैं- 'मिराइतोवा' और 'सोमाइटी'।
  • 33वें ओलंपिक खेल वर्ष 2024 में पेरिस में आयोजित किए जाऐंगे।

ओलंपिक में भारत का सफर

  • सन् 1900 में पहली बार भारत की ओर से एकमात्र एथलीट नॉर्मन प्रिचर्ड ने भाग लिया। जिसने एथलेटिक्स में दो सिल्वर जीते।
  • आधिकारिक रूप से भारत 1920 में ओलंपिक खेलों में भाग लिया। तब से अब तक भारत ने मात्र 28 पदक जीते हैं, जिनमें 9 स्वर्ण, 7 रजत और 11 कांस्य पदक शामिल हैं। अब तक सबसे ज्यादा पदक हॉकी में जीते गए हैं।
  • भारतीय ओलम्पिक परिषद की स्थापना 1924 ई. में की गयी थी और सर जे.जे टाटा इसके प्रथम अध्यक्ष थे। वर्तमान यानी 2021 में इसके अध्यक्ष नरिन्दर बत्रा हैं।


*अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक दिवस-2022 का विषय/थीम* 

'एक साथ, एक शांतिपूर्ण दुनिया के लिए'

Together, For a Peaceful World



No comments